M.P. के शाजापुर में Private Hospital की मनमानी पैसे न मिलने पर बांधे बुज़ुर्ग के हाथ पैर

331
Facebook
Twitter
Pinterest
WhatsApp

अस्पतालों में भी काफी जगह मनमानी होती है और इसका एक उदाहरण शाजापुर (मध्यप्रदेश) में सामने आया है | यहाँ पर एक प्राइवेट हॉस्पिटल द्वारा एक बुज़ुर्ग जिसकी उम्र लगभग अस्सी वर्ष है उसके साथ गलत व्यवहार किया गया | बुज़ुर्ग द्वारा इलाज के पैसे जमा नहीं करवाए गए जिसके कारण उसके हाथ पैर बेड से बांध दिए गए | प्रशासन को जब इसकी खबर लगी तो उनके द्वारा इसकी जांच करवाई गयी |

शीला दांगी द्वारा बताया गया कि उसने लक्ष्मी नारायण दांगी (पिता 80 वर्ष) को प्राइवेट हॉस्पिटल में एडमिट कराया क्योंकि उन्हें पेट की समस्या है | विगत एक सपताह से उनका इलाज चल रहा है और अस्पताल द्वारा पहली बार 6 व दूसरी बार 5 हज़ार रुपये मांगे गए जिन्हें समय से जमा किया गया |

इसके उपरांत जब इलाज के लिए पैसे नहीं बचे तो शीला द्वारा अपने पिता को डिस्चार्ज करने की बात कही गयी | परंतु अस्पताल प्रबंधन ने फाइल नहीं दी और उसके बाद 11,270 रुपये और मांगे | उनके द्वारा बुज़ुर्ग को लगायी गयी पेशाब नली भी नहीं हटाई गयी और उसी अवस्था में बुज़ुर्ग को बिस्तर से बाँध दिया गया |

डॉ. प्रकाश विष्णु फुलंबीकर (मुख्य अधिकारी स्वास्थ्य एवं चिकत्सा) द्वारा बताया गया कि इस मामले की जांच हो रही है | जिलाधिकारी द्वारा SDM और अनुविभागीय अधिकारी के नेतृत्व में आने वाले तीन सदस्यों के दल बनाये गए हैं | जांच की रिपोर्ट भी जिलाधिकारी के हवाले की गयी है एवं उक्त हॉस्पिटल को नोटिस भेजा गया है |

हमरा सहयोग करे, कुछ दान करे , ताकी हम सचाई आपके सामने लाते रहे , आप हमरी न्यूज़ शेयर करके भी हमरा सहयोग कर सकते