China के खिलाफ आक्रामक रुख रहेगा बरक़रार और पीछे नहीं हटेगी Indian Army

38
Tiktok का एक मात्र विकल App "99likes" डाउनलोड करे,जिसे आप वीडियो भी बना सकते है रे
Download 99likes

भारतीय सेना दौलत बेग ओल्डी, पैंगोंग लेक, डेमचौक और गलवां में अपना आक्रामक रुख बरक़रार रखेगी | इसके अलावा चीन की हर चाल का मुंह तोड़ जवाब भी देगी ऐसा फैसला लिया गया है | सेना किसी भी दवाब में आये बिना अपनी जगह पर मुस्तैद रहेगी | तीन दिन का सम्मलेन जिसमे सेना के कमांडर शामिल थे वह शुक्रवार को समाप्त हो गया और उसके उपरांत ही यह जानकरी सूत्रों के द्वारा मिली | परंतु अभी भी बैठक में जो मुद्दे उठाये गए थे उनका ज़िक्र नहीं हुआ है |

सूचना के अनुसार सम्मलेन में भारत की सेना के शीर्ष अधिकारी मौजूद थे और उनके द्वारा वर्तमान और भविष्य में आने वाली चुनौतियों के बारे में चर्चा की गयी | लद्दाख में जारी भारतीय और चीनी तनाव इस सम्मलेन का एक मुख्य बिंदु था | इस सम्मलेन में ह्यूमन रिसोर्स मैनेजमेंट, वेपन मैनेजमेंट एवं प्रशिक्षण से जुड़े मुद्दे भी उठाये गए | दूसरे प्रशिक्षण संस्थानों के साथ विलय करने के ऊपर भी अधिकारीयों द्वारा विचार किया गया |

बोर्ड ऑफ़ गवर्नर की बैठक भी इस बीच संपन्न हुई जिसमे Army Welfare Origination एवं Army Welfare Education Society के अधिकारी शामिल थे | बाता दें कि दूसरा सम्मेलन भी जल्द होगा जिसकी तिथि 24-27 जून है |

हमरा सहयोग करे, कुछ दान करे , ताकी हम सचाई आपके सामने लाते रहे , आप हमरी न्यूज़ शेयर करके भी हमरा सहयोग कर सकते