10 करोड़ लीटर बारिश का पानी बचाने का लक्ष्य बनाया है वड़ोदरा सरकारी विद्यालय ने।

45
Tiktok का एक मात्र विकल App "99likes" डाउनलोड करे,जिसे आप वीडियो भी बना सकते है रे
Download 99likes

वड़ोदरा, गुजरात (Vadodara, Gujarat) – जब पिछले साल बारिश के मौसम में वड़ोदरा में बहुत बार भाड़ आयी थी – लाखो लीटर बारिश का पानी का नुकसान ही हुआ था वो सीधे गटर में ही गई थी क्यूंकि कोई संरचना पहले से की नहीं गई थी। 

किन्तु अगर जिल्ला अगर वैसी बारिश फिर इस साल देखेगा तो कम से कम 10 करोड़ लीटर बारिश का पानी बचाया जायेगा। और बारिश के इस पानी को बचाने वाले और कोई नहीं बल्कि 1000 सरकारी स्कूल ही है जिनके पास पानी बचाने के लिए संरचना है। 

एक प्रोजेक्ट जो समय अनुसार खत्म किया गया था 28 जून 2020 को प्रधानमंत्री के मन की बात में मोदी जी ने इसका उल्लेख किया था। सारे प्राइमरी और सेकेंड्री स्कूलों के पास सिस्टम है और यह प्रोजेक्ट देश को संबोधित किया गया है गुजरात के चीफ मंत्री विजय रुपानी द्वारा सोमवार की रोज। 

यह बहुत ही प्रेणादायक कहानी है वड़ोदरा गुजरात की।  यहाँ जिले के अध्यक्ष ने नया और अलग अभियान शुरू किया है।  इस अभियान में 1000 वड़ोदरा की स्कूलों के पास बारिश बचाने के सिस्टम है। कुछ १० करोड़ लीटर पानी का नुक्सान अब बच जाएगा हर साल। 

प्रधानमंत्री ने रेडियो द्वारा अपने मन की बात में कहा – 

प्रकृति और वातावरण को बचाने के लिए इस बारिश के मौसम में हमने कुछ कदम उठाये है। 

वड़ोदरा की कलेक्टर शालिनी अग्रवाल ने कहा –

“यह प्रोजेक्ट सितम्बर महीने में 2019 में शुरू किया गया था और हमने लक्ष्य बनाया था इस प्रोजेक्ट को खत्म करने का एक साल में मतलब सितम्बर 2020 तक लेकिन हमने इसे 9 महीने में ही खत्म कर दिया है।”

उन्होंने और भी कहा – 

शिक्षा अभियान – सारे स्कूलों को 3 से 5 लाख रुपये दिए गए थे बारिश के पानी को बचाने के सिस्टम को स्थापित करने के लिए। किन्तु इतने रकम में हम सारे स्कूलों में तो यह सिस्टम स्थापित नहीं कर पाए। हमने SSA engineers से कंसल्ट किया और लौ बजट में प्रोजेक्ट कम्पलीट करने को कहा जो मान लिया गया और स्कूलों में स्थापित कर दिया गया।

उन्होंने बताया –

केवल 8% बारिश का पानी ही बचाया गया था बाकि 92% बारिश का पानी का नुकसान हुआ था पिछले साल। 

प्राइमरी शिक्षा के अफसर अर्चना चौधरी ने कहा –

यह अभियान शुरू होने से पहले ही 37 स्कूलों में पहले से ही यह सिस्टम लगे हुए थे SSA ग्रांट द्वारा और अब 1000 स्कूलों के पास यह सिस्टम है। 

तो इस तरह से इस अभियान के द्वारा 10 करोड़ लीटर बारिश के पानी को बचाने का लक्ष्य बनाया है वडोदरा सरकार ने।

हमरा सहयोग करे, कुछ दान करे , ताकी हम सचाई आपके सामने लाते रहे , आप हमरी न्यूज़ शेयर करके भी हमरा सहयोग कर सकते