India की जनसंख्या को जानवर और इंसानों में विभाजित करने वाले Munawwar Rana के ट्वीट पर विवाद

272
Tiktok का एक मात्र विकल App "99likes" डाउनलोड करे,जिसे आप वीडियो भी बना सकते है रे
Download 99likes

मुनव्वर राना जो काफी लोकप्रिय उर्दू के शायर हैं, उनके द्वारा एक ट्वीट किया गया है जो विवादित है | इस ट्वीट में भारतवासियों पर उन्होंने टिप्पणी की है जिसके कारण विवाद उत्पन्न हो गया है | भाजपा के प्रवक्ता संबित पात्रा को इस ट्वीट में संबोधित किया गया है और लिखा है इस देश में सौ करोड़ जानवर एवं पैंतीस करोड़ मनुष्य निवास करते हैं |

मुनव्वर ने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से ट्वीट किया और कहा कि संबित जी कांग्रेस जब जवान थी तब शायद आप गब्हे पर होंगे और गब्हे का अर्थ यू.पी से जानियेगा क्यूंकि उड़ीसा में कोई बता नहीं पायेगा | परंतु कोरोना काल में सरकार हार चुकी और मेरा सौ करोड़ जानवर एवं पैंतीस करोड़ इंसान वाला कथन बिलकुल सच साबित हो गया |

ट्विटर पर यूज़र्स ने भी इसके खिलाफ काफी सारी प्रतिक्रियाएँ व्यक्त की | एक शख्स के कमेंट पर शायर साहब ने लिखा कि मैं इस झूठी नगरी में सच बयान कर रहा हूँ फिर भी मेरा सिर कलम नहीं किया गया | इसके ऊपर दूसरा कमेंट आया कि यह सच आपके द्वारा हिन्दुस्तान में बयान किया गया है अगर ऐसा सच इस्लामिक देश में बोलेंगे तो आपकी दिली तमन्ना पूरी कर दी जाएगी |

मुनव्वर के इस पोस्ट पर काफी सारे कमेंट्स लगातार आ रहे हैं | एक यूजर लिखता है “ मन में ऐसा मैल भरा है कि असलियत में तीस करोड़ जाहिल जानवर हैं पर समझा सौ करोड़ मनुष्यों को जा रहा है ! ख़ैर ये आसमानी असर जो दिमाग पर पड़ा है उसका नतीजा है” |

CDS से भी इन्होने बोला था कि यह पुलवामा नहीं है कोरोना वायरस है | ज्ञात हो कि जब सेना द्वारा कोरोना फाइटर्स का सम्मान किया गया था तब मुनव्वर ने आपत्ति जताई थी | इस पर भी उनके द्वारा ट्वीट किया गया था कि कोरोना फाइटर्स सम्मानीय हैं पर यहाँ दवाओ से बात बनेगी क्योंकि यह पुलवामा जैसा नहीं है | फ़ौज की शक्ति और ताकत की बर्बादी रोकते हुए मिलिट्री अस्पतालों को एवं उनके डॉक्टर्स को इससे लड़ने के लिए भेजिए |

हमरा सहयोग करे, कुछ दान करे , ताकी हम सचाई आपके सामने लाते रहे , आप हमरी न्यूज़ शेयर करके भी हमरा सहयोग कर सकते