Home Local News Satna में सिपाही को Tractor से कुचल कर मारने के पीछे डीजल माफिया

Satna में सिपाही को Tractor से कुचल कर मारने के पीछे डीजल माफिया

0
Satna में सिपाही को Tractor से कुचल कर मारने के पीछे डीजल माफिया

सतना (मध्य प्रदेश), यहाँ पर नयागांव में स्थित थाने में प्रबल प्रताब सिंह (सिपाही) की तैनाती थी और रविवार को उनकी मौत हो गयी थी | परंतु अब इसमें एक नयी बात सामने आई है | रविवार को पता चला था उनकी मौत का कारण एक सड़क हादसा है परंतु जब पुलिस ने इसकी अच्छे से पड़ताल की तब गाँव के लोगों के द्वारा बताया गया कि इनकी हत्या की है और इसमें डीजल माफिया का हाथ है |

कालाबाजारी करने वालों को पकड़ने गए थे-

सतना जिले के अंतर्गत आने वाले चित्रकूट नयागांव में पथरा गाँव आता है जहाँ पर डीजल की कालाबाजारी होने की खबर मिली थी | प्रबल प्रताप सिंह (कांस्टेबल) कालाबाजारी करने वालों को पकड़ने गए थे पर माफिया के लोगों द्वारा उनको ट्रेक्टर से कुचला गया और इसके उपरांत उनकी मौत हो गयी | रियाज़ इक़बाल (पुलिस अधीक्षक, सतना) ने बताया कि जो इस जुर्म में संलिप्त हैं उनको दबोचने के लिए 4 टीम्स बनायीं गयीं हैं एवं पूरे सम्मान के साथ शहीद प्रबल प्रताप सिंह की विदाई भी की गयी है |

पुलिस द्वारा यह भी बताया गया कि पथरा गाँव में चेकिंग कार्य चल रहा था और उस समय एक ट्रेक्टर आया जो संदिग्ध प्रतीत हुआ | सिपाही द्वारा उसे रोका गया और कागजात दिखाने की मांग की गयी | कागजात नहीं होने के कारण ट्रेक्टर चालक से थाने जाने की बात हुई और इतने में वह भागने लगा | जब उसका पीछा किया गया तो उसके द्वारा टक्कर मार दी गयी और कांस्टेबल नीचे आ गये | इसके बाद ट्रेक्टर से दबने की वजह से उनकी मृत्यु हो गयी |

आरोपियों पर इनाम-

पुलिस द्वारा 5 लोगों पर शक जताया गया है और उनको गिरफ्त में ले लिया है | पूछताछ का सिलसिला जारी है और आरोपियों पर इनाम रख दिया गया है | जिस किसी ने भी इसकी जानकारी दी उसे 10000 रुपये इनाम स्वरुप दिए जायेंगे | आशीष धुर्वे (थाना इंचार्ज, नयागांव) को भी निलंबित किया गया क्योंकि उनके द्वारा बताया गया था कि प्रबल प्रताप सड़क दुर्घटना में मृत हुए हैं |

उत्तर प्रदेश का था सिपाही-

कांस्टेबल प्रबल प्रताप सिंह उत्तर प्रदेश के थे वह बन्ना मऊगांव (रायबरेली) के निवासी थे | 2014 में रतलाम के पुलिस डिपार्टमेंट में उनकी भर्ती हुई थी और पिछले 3 वर्ष से वह नयागांव (चित्रकूट) में पोस्टेड थे | सोमवार को उनके विवाह की प्रथम वर्षगांठ थी पर रविवार के दिन ही वह शहीद हो गए |