पशुओं से इंसान में फैली बीमारी – ‘ब्रूसीलोसिस’ का पहला केस इस साल राजस्थान में आया – 2019 में 100 + केस सामने आए थे!

30
Tiktok का एक मात्र विकल App "99likes" डाउनलोड करे,जिसे आप वीडियो भी बना सकते है रे
Download 99likes

राजस्थान, भारत (Rajasthan, India) – पहले से ही लोग कोरोना से परेशान थे और अब इस साल बारिश का मौसम चिकनगुनिया, ब्रूसेलोसिस और स्क्रब टाइफस के आंकड़े में बढ़ोतरी ले आया। श्रीगंगानगर में ब्रूसेलोसिस का इस साल का पहला केस सामने आया जिससे गए साल 120 के करीब लोग संक्रमित थे। यह बीमारी पशुओं से इंसानों में फैलती है। 

किन्तु अब सवाल यह उठता है की आखिर क्या है ब्रुसेलोसिस ?

यह बीमारी जीनस ब्रूसेला के बैक्टीरिया समूह से फैलती है। किन्तु, खुशख़बरी यह है की यह जानलेवा नहीं है। यदि, यह माता को हो तो ब्रैस्ट फीडिंग द्वारा बच्चे को भी हो सकती है। इसके लक्षण स्वाइन फ्लू के जैसे ही है। ठंड लग कर बुखार आना, सुस्ती, भूख न लगना, वजन लगातार बढ़ना, पीठ दर्द आदि। 

अन्य बिमारियों का आतंक!

यूँ तो 2016 से चिकनगुनिया के आंकड़े में कमी आ रही थी। किन्तु, इस साल 2019 से लगभग चार गुना ज़्यादा है।अब तक इस साल चिकनगुनिया का आंकड़ा 200 तक पहुँच चूका है। प्रदेश में पिछले साल आंकड़ा सिर्फ 50 तक था। केस बढ़ने के कारण चिकित्सा विभाग की चिंता भी बढ़ गई है। 

डॉक्टरों के अनुसार –

बुखार ठीक होने के बाद भी यह कई दिनों तक परेशान करता है। इसके लक्षण डेंगू के सामान है। किन्तु, इसमें व्यक्ति को कमजोरी डेंगू के मरीज़ के जितनी नहीं होती क्योंकि इसमें प्लेटलेट्स कम नहीं होते है। बुखार के समय जोड़ों में दर्द होना आदि लक्षण सामान्य है।

हमरा सहयोग करे, कुछ दान करे , ताकी हम सचाई आपके सामने लाते रहे , आप हमरी न्यूज़ शेयर करके भी हमरा सहयोग कर सकते