Rajasthan में 3 तीन मासूम बच्चे और एक मर्द की लेंटर ढहने से दबकर हुई मौत!

71
Facebook
Twitter
Pinterest
WhatsApp

अलवर, राजस्थान (Alwar, Rajasthan) – राजस्थान के अलवर जिले में  छत गिरने के कारण परिवार में से 3 बच्चे और एक मर्द की हुई हादसे में मौत – यह बारिश के कारण हुआ है। पिछले कुछ दिनों से राजस्थान में बारिश है और उसके कारण नीव भी कमजोर हो चुकी थी। यह किस्सा अलवर जिले के मत्स्य औद्योगिक क्षेत्र के कैमाला गांव का है। यह रविवार कि रात करीब 11 बजे हुआ था। परिवार के चार जन की मृत्यु मकान का लेंटर ढहने से दबकर हुई थी। उसमें 32 वर्ष का युवक ममरेज उसकी दो बेटी शबनम और सानिया 6-2वर्ष की ओर करीब सिर्फ 1 माह के बेटा जिसकी भी इस खौफनाक हादसे में मृत्यु हो गई।   

मृतक ममरेज की पत्नी हारुनी व 4 वर्षीय बेटी स्वालिया मलबे में दबने से घायल हुई किन्तु, जीवित है। हादसे के समय परिजन नवनिर्मित बरामदे व अगल-बगल के दो कमरों में सो रहे थे।

मृतक की पत्नी ने कही उन चन Seconds की कहानी – 

रात का समय था वह उस एक माह के नन्ही सी जान को दूध पीला रही थी। बाकी तीन बच्चियां अपने पिता के पास सोई हुई थी। हरुनी ने यह भी कहा कि उन्हें लेंटर गिरता नज़र आया परन्तु, वह जब तक कुछ समझ पाए तब तक वह और बाकी सब पर छत गिर चुकी थी। इतना ही नहीं, बल्कि हारूनी के गोध में बच्चा था उसकी भी मृत्यु हो गई। आस पड़ोस के लोगो का कहना है कि हादसे के समय मकान में 18 लोग सोए हुए थे। अच्छी बात यह है कि सब अलग अलग सोए थे तो सबकी जान नहीं गई। इस हादसे के कारण वह गांव में सन्नाटा छाया हुआ है। अंदाज़ा लगाया जा रहा है कि यह घटना बारिश के कारण हुई है। बारिश के कारण नीव में पानी चला गया था और फिर छत गिर गई और पिछले कुछ दिनों से बारिश रुक रुक कर गिर रही है तो उसका भी है असर। गाँव वालो का कहना है कि घर का लेंटर करीब 12 साल पहले डलवाया था और मकान अभी ईंटों के पिलार पर खड़ा हुआ था। 

यूं तो पत्नी हारूनी जिंदा है किन्तु, उनकी हालत गंभीर है और अस्पताल के ICU ward में भर्ती है। 

हमरा सहयोग करे, कुछ दान करे , ताकी हम सचाई आपके सामने लाते रहे , आप हमरी न्यूज़ शेयर करके भी हमरा सहयोग कर सकते