Corona Vaccine के इतने निकट पहुंचे वैज्ञानिक कि उत्पादन कर दिया आरंभ

416
Tiktok का एक मात्र विकल App "99likes" डाउनलोड करे,जिसे आप वीडियो भी बना सकते है रे
Download 99likes

कोरोना से पीड़ित विश्व के लिए अब एक अच्छी खबर है और यह खबर वैक्सीन से जुड़ी है | ऑक्सफ़ोर्ड यूनिवर्सिटी में साइंटिस्ट इस काम पर लगे हुए थे और अब वह इसके काफी समीप पहुँच गए हैं |  आस्ट्राजेनेका जो एक ब्रिटिश स्वीडिश फार्मा कंपनी है उसके द्वारा बताया गया कि तैयार वैक्सीन का परीक्षण किया गया और इसके नतीजे इतने बेहतरीन आये कि इसकी उत्पादन प्रक्रिया चालु हो गयी | पुणे में भी इसका उत्पादन होगा और यहाँ उत्पादित वैक्सीन गरीब देशों में भेजी जाएगी |

पास्कल सोरियोट (सीईओ) द्वारा बताया गया कि इसका अंतिम नतीजा आना बाकी है और ऐसी उम्मीद है कि यह अच्छा ही आएगा | वैक्सीन का निर्माण काफी तेज़ी से किया जा रहा है जिसके चलते इसे ज्यादा लोगों तक पहुँचाया जा सकेगा | अगस्त तक इस वैक्सीन के टेस्ट पूरे हो जायेंगे और सितम्बर तक कंपनी के पास अच्छा ख़ासा स्टॉक होना चाहिए |

पास्कल सोरियोट के द्वारा यह भी कहा गया कि पुणे के सेरम इंस्टिट्यूट के साथ एक अग्रीमेंट किया जाएगा और यह जल्द होगा | यह दोनों ही फार्मा कम्पनीज एक अरब से ज्यादा वैक्सीन को तैयार करेंगी और जिन देशों में आय कम है वहां पर भेजेंगी और भारत में भी वैक्सीन दी जाएगी | कंपनी ने लक्ष्य बनाया है कि 2020 के आखिर तक करीब चालीस करोड़ वैक्सीन तैयार होंगी |  इसके अलावा कंपनी दो और कम्पनीज के साथ करार करेगी जिससे वितरण और खरीदी में कोई बाधा उत्पन्न न हो |

वैक्सीन को बनाने में आगे-

पूरे विश्व में सौ से भी ज्यादा ऐसे संस्थान हैं जहाँ कोरोना की वैक्सीन बनाने का प्रयास हो रहा है पर ऑक्सफ़ोर्ड यूनिवर्सिटी वैक्सीन को बनाने में आगे है | यहाँ पर वैज्ञानिकों ने सौ पीड़ितों के ऊपर इस वैक्सीन का प्रयोग किया और यह सफल रहा और यह प्रथम चरण था | इस बार करीब दस हज़ार लोगों पर इसका परीक्षण होगा और यह इसका दूसरा एवं तीसरा चरण होगा और यह ब्राजील एवं अन्य देशों में भी होगा |

हमरा सहयोग करे, कुछ दान करे , ताकी हम सचाई आपके सामने लाते रहे , आप हमरी न्यूज़ शेयर करके भी हमरा सहयोग कर सकते