India में होगा Corona Vaccine तैयार- ICMR और BBIL आये साथ

291
Facebook
Twitter
Pinterest
WhatsApp

पूरा विश्व इस वक़्त कोरोना से लड़ने के लिए उसकी दवा बनाने के प्रयास में जुटा हुआ है | भारत में ICMR (इंडियन काउंसिल ऑफ़ मेडिकल रिसर्च) और BBIL (भारत बायोटेक) ने साथ काम करने का फैसला लिया है | यह दोनों संस्थाएं देश में ही कोरोना की वैक्सीन को बनाने का कार्य करेंगी | यह एक ऐसा समझौता है जिससे भारत को मजबूती मिलेगी और अगर वैक्सीन तैयार हो जाती है तो दूसरे देशों पर निर्भरता समाप्त हो जाएगी |

NIV पुणे (नैशनल इंस्टिट्यूट ऑफ वायरोलॉजी) में जो वायरस का स्ट्रेन अलग किया गया है उसका यूज़ इस वैक्सीन को तैयार करने में होगा | ICMR द्वारा कहा गया है इस स्ट्रेन को BBIL को भेजा जा चुका है और अब इसपर कार्य प्रारंभ होगा |

अप्रूवल लगातार लिया जाएगा-

ICMR ने बताया है कि दोनों संस्थाएं डेवलपमेंट पर काम चालु कर चुकी हैं और इस सन्दर्भ में ICMR और NIV दोनों ही BBIL को हर समय रिपोर्ट प्रदान करती रहेंगी | इस लिस्ट में एनिमल स्टडी, वैक्सीन डेवलपमेंट और क्लिनिक ट्रायल है और इन सब पर तेज़ी से काम हो इसके लिए लगातार अप्रूवल लिया जायगा |

डॉ. कृष्ण एला (MD चेयरमैन भारत बायोटेक) ने भी बयान दिया कि ऐसे समय में हम देश के लिए कुछ कर रहे हैं इस बात पर गर्व है | इसके अलावा हम ICMR और NIV जैसे मुख्य संस्थानों के साथ जुड़कर इस महामारी से लड़ने में देश की पूरी मदद करेंगे |

बायोटेक पहले से सक्रिय-

यह समझौता कोरोना को हराने के लिए भारत का तीसरा मुख्य कदम बन चुका है | इससे पूर्व DOT (डिपार्टमेंट ऑफ़ बायोटेक्नॉलजी) ने भी 20 अप्रैल को वैक्सीन के लिए फंड्स प्रदान करने की घोषणा की थी और यह फंड भारत बायोटेक को इसलिए प्राप्त हुआ था क्योंकि संस्था इनऐक्टिवेटेड रैबीज वेक्टर को सोर्स के रूप में अपनाते हुए वैक्सीन तैयार कर रही थी |

पहले भी तीन अप्रैल को बायोटेक CoroFlu पर काम चालु कर चुकी है और इस वैक्सीन का आधार एक पुरानी दवा है जो इंसानों पर बुरा प्रभाव नहीं डालती | इस प्रक्रिया में भारत बायोटेक के साथ कई नामी विदेशी कम्पनीज भी शामिल थीं |

तीस करोड़ डोज़ होंगी तैयार-

भारत बायोटेक से रेचेज एला (BDH) ने बताया है कि वैक्सीन बनाने के बाद इसका ट्रायल होगा जिसके उपरांत इसके तीस करोड़ डोज़ बनेंगे और इन्हें इश्व स्तर पर सप्लाई भी किया जाएगा | फ्लूज़न कंपनी के साथ गटबंधन हमारी सहायता करेगा क्योंकि वह हमें मैन्युफैक्चरिंग प्रोसेस प्रदान करेगी |

हमरा सहयोग करे, कुछ दान करे , ताकी हम सचाई आपके सामने लाते रहे , आप हमरी न्यूज़ शेयर करके भी हमरा सहयोग कर सकते