अंबाला के पूर्व सैनिको ने कहा – राफेल करेगा पकिस्तान और चीन की नींद हराम – भारत का नया लड़ाकू विमान !

34
Tiktok का एक मात्र विकल App "99likes" डाउनलोड करे,जिसे आप वीडियो भी बना सकते है रे
Download 99likes

एक नहीं पांच राफेल  27 जुलाई को फ्रांस से रवाना हुए थे। फ्रांस के मेरीनेक एयरबेस से निकले थे जहाँ भारत के राजदूत भी मौजूद थे।  

अंबाला में आज शाम लोग लाइट और दीपक जलाकर राफेल का स्वागत करेंगे। वहां के लोगो जी ख़ुशी का कोई ठिकाना ही नहीं है।  

सूत्रों के अनुसार – 

वहां के लोग यह कह रहे है, की राफेल हमारे भारत देश में नहीं बल्कि हमारे घर में आ रहा है। लोगो में काफी ज़्यादा उत्साह है। यूँ तो इसे करीब से देखने की तमन्ना लोग पूरी होते हुए नहीं देख सकते है।  किन्तु, उन्हें इस बात की तसल्ली है की, राफेल को कभी आसमान में उड़ता हुआ तो देख सकेंगे।  

अंबाला के पूर्व सैनिको का कहना – 

भारत पहले से ही न तो चीन से डरता था और नहीं पकिस्तान से। किन्तु, फिर भी इस विमान के आने से हमारी ताकत दोगुनी हो जाएगी।  चीन और पकिस्तान की नींद हराम करेगा राफेल। 

अंबाला की एक्स सर्विसमैन वेलफेयर कमेटी के प्रधान अत्र सिंह मुल्तानी का कहना है कि – हिन्दुस्तान का समय अब आएगा –

निश्चिंत रूप से दोनों दुश्मनो की नींद खराब करेगा राफेल – यह तो तय है। हमारे हिन्दुस्तान को एक ऐसा फाइटर प्लेन मिला है, जो अपने आप में ही ताकत है। यह दुश्मन की ताकत को पहले सेल्क्ट करेगा और फिर तबाह करेगा। उनका यह भी कहना है दावे के साथ की – आने वाला समय हमारे भारत का है।  इतना ही नहीं बल्कि, इससे नेवी भी उभरेगी मजबूती के साथ। अंबाला के लिए बहुत गर्व की बात है की राफेल पहले वहां आ रहा है। पूर्व सैनिक इसका खूब अच्छे से स्वागत करने वाले है।  

चीन – पकिस्तान कुछ भी करने से पहले 100 बार सोचेंगे – 

अंबाला के रिटायर्ड सूबेदार मेजर सुरखन सिंह ने कहा की – चीन साजिश रच रहा है लद्दाख में बेठ कर। चीन समझता है की इस बार वह 1962 का इतिहास फिर से दोहराएगा किन्तु, ऐसा नहीं होने वाला है। यह राफेल इतना मजबूत है की इसकी टक्कर का फाइटर प्लेन सिर्फ अमेरिका और फ्रांस के पास ही है और इससे सेना की ताकत भी बढ़ जाएगी।  तो अब पकिस्तान और चीन कोई भी उटपटांग हरकत करने से पहले सोचेंगे।   

रिटायर्ड कैप्टन कर्मचंद मेहरा भी कहते है की –

राफेल से हमारे हिन्दुस्तान की ताकत बढ़ेगी क्योंकि, राफेल ताकतवर ओर बढ़िया फाइटर प्लान है। यह सिर्फ अमेरिका और फ्रांस के पास है। इससे चीन और पकिस्तान में काफी दर पैदा हो गया होगा क्योंकि, वह जानते है यदि यह चीन या पकिस्तान पहुंचा तो उनको काफी हद तक नुक्सान होगा। भारत के अंबाला में अंग्रेजों के समय का हवाई अड्डा मौजूद है। एयरबेस से चारों तरफ अटैक किया जा सकता है।

ऑनरेरी सूबेदार मेजर राजेश बसी कहते है कि – 

राफेल तो हमारे देश में नहीं, वह तो हमारे घर में आ रहा है। हमारे हिन्दुस्तान को इसकी सख्त ज़रूरत थी क्योंकि, यह गेम Changer है। अंबाला स्टेशन पाकिस्तान और चीन के टारगेट पर रहा है। अंबाला को सेफ रखने और यहां तैनाती करने का देश को बहुत फायदा है।

हमरा सहयोग करे, कुछ दान करे , ताकी हम सचाई आपके सामने लाते रहे , आप हमरी न्यूज़ शेयर करके भी हमरा सहयोग कर सकते