आगरा में एक झोपड़ी की राख में प्रधान का शव झुलसा मिला – परिजनों ने हत्या को हादसे में बदलने की आशंका जारी की।

36
Tiktok का एक मात्र विकल App "99likes" डाउनलोड करे,जिसे आप वीडियो भी बना सकते है रे
Download 99likes

आगरा, उत्तर प्रदेश (Agra, Uttar Pradesh) – घटनास्थल पर पुलिस बल और कुछ लोग जुटे। गांव के 2 युवक पर आरोप लगा है। उत्तर प्रदेश के आगरा जिले में एत्मादपुर थाना क्षेत्र में मंगलवार की रात को एक गांव के प्रधान की हत्या कर दी गई थी। सुबह उनका झुलसा शव गांव के एक अल्पसंख्यक समुदाय के व्यक्ति की झोपड़ी में रखा मिला। परिजन साजिशन झोपड़ी में आग लगाकर हत्या करने का आरोप लगा रहे है। परिजनों ने गांव के ही 2 युवकों पर आरोप लगाया है। पुलिस कर रही है मामले की पूरी जाँच। 

4 बजे शाम को प्रधान घर से निकला था। 

यह पूरा मामला एत्मादपुर के रसूलपुर गांव का है। यहाँ 48 साल के वर्तमान प्रधान हरीकृष्णा थे। बेटी रचना के अनुसार – दिन में गांव के प्रमोद और एक अन्य युवक आये थे और उनके पिता के साथ शराब पी थी। इसके पश्चात पिता सो गए थे और फिर शाम 4 बजे वे घर से नहा धो के निकले थे किन्तु फिर घर वापिस लौट कर नहीं आए। सुबह एक झोपड़ी में उनका जलता हुआ शव मिला और जिस झोपड़ी से शव मिला है वे भी चलकर राख हो गए है। अध् जले कपड़ों से शिनाख़्त की गई है। 

CO ने कहा – दुर्घटना हुई है यह कहना अभी कठिन है। 

ग्राम प्रधान के बेटे अनूप ने कहा कि रसीद खां कि झोपड़ी में रात को कोई नहीं रहता है। इसमें ऐसी कोई चीज भी नहीं है जिससे खुद आग लगे। उनके पिता झोपड़ी में पहुंचे कैसे – यह भी अब जांच का विषय है। आशंका यह है कि हत्या करके हादसा दिखाने के लिए झोपड़ी में आग लगाई हो। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। मामले में सीओ एत्मादपुर अतुल सोनकर ने फोन पर कहा है कि प्रधान शराब के नशे में दुर्घटना के शिकार हुए है या उनके साथ किसी ने कुछ गलत किया है यह अभी कहना कठिन है। 

हमरा सहयोग करे, कुछ दान करे , ताकी हम सचाई आपके सामने लाते रहे , आप हमरी न्यूज़ शेयर करके भी हमरा सहयोग कर सकते