China के साथ व्यापार करने को तैयार नहीं है Donald Trump

75
Tiktok का एक मात्र विकल App "99likes" डाउनलोड करे,जिसे आप वीडियो भी बना सकते है रे
Download 99likes

अमेरिका के राष्ट्रपति जो कि डॉनल्ड ट्रंप हैं चीन के खिलाफ बहुत ही आक्रामक होते जा रहे हैं । अमेरिका और चीन के खिलाफ व्यापार के संबंधों की बातें आजकल बहुत ही चर्चा में है । अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के हिसाब से वह अभी चीन के साथ कोई भी समझौता करना नहीं चाहते हैं ।  वह यह भी जरूरी नहीं समझते हैं कि चीन के साथ कोई भी व्यापार समझौता हो । उनके मुताबिक अमेरिका और चीन के हालात इतने खराब हो चुके हैं कि अब शायद भविष्य में भी कोई भी व्यापार समझौता नहीं हो सकता है जिसका का मुख्य कारण कोरोनावायरस है ।

चीन चाहता तो बच जाती दुनिया-

अमेरिका में एयरफोर्स वन कमेटी का गठन हुआ है, उनकी एक बैठक के अनुसार “द वॉल स्ट्रीट जनरल “के मुताबिक डॉनल्ड ट्रंप अभी चीन के साथ कोई भी समझौता करना नहीं चाहते हैं ।  डॉनल्ड ट्रंप के मुताबिक जो कोरोना वायरस पूरी दुनिया में फैला है वह चीन की देन है और अगर चीन चाहता तो उचित समय पर इसका इलाज ढूंढ सकता था लेकिन चीन ने ऐसा नहीं किया।

जनवरी में हुआ था पहला समझौता-

जनवरी में चीन और अमेरिका के बीच पहला व्यापार समझौता हुआ था और अब आगे के समझौते में अमेरिका और चीन के बीच और भी अच्छे समझौते होने वाले थे लेकिन अब डॉनल्ड ट्रंप के मुताबिक  कोई समझौता नहीं होगा । कोरोना वायरस का संकट पूरी दुनिया में फैला हुआ है जिससे कि इंसानों पर तो प्रभाव हो ही रहा है उसके साथ साथ व्यापार पर भी बहुत बुरा प्रभाव पड़ रहा है । कई देशों में तो आर्थिक संकट भी उत्पन्न हो रहे हैं।

दुनिया में आर्थिक संकट इतना बढ़ गया है कि जो पहले चरण में समझौते हुए थे उन्हें भी पूरा करना मुश्किल लग रहा है। अमेरिकी अंतरराष्ट्रीय प्रमुख के मुताबिक जब तक पहले चरण के सारे समझौते पूरे नहीं हो जाते तब तक और कोई भी समझौते अमेरिका और चीन के बीच नहीं होगा । उन्होंने यह भी कहा कि अभी अमेरिका और चीन के हालात सुधरते हुए नहीं दिख रहे हैं तो व्यापार की उम्मीद करना अभी संभव नहीं है।

चीन ने कभी ज्यादा चिंता नहीं जताई है अमेरिका के साथ व्यापार करने  में क्योंकि उनके हिसाब से अमेरिका के साथ व्यापार करने में उन्हें ज्यादा फायदा नहीं होता है। वहीं 2019 में अमेरिका को बहुत बड़ा घाटा हुआ था चीन के साथ व्यापार करने के कारण । जब डॉनल्ड ट्रंप अमेरिका के राष्ट्रपति बने (2016) तब उन्होंने नियमों में थोड़ा सा फेरबदल किया जिससे कि घाटे में बहुत फर्क आया पर फिर भी यह घाटे चलते ही रहे और 2018 में भी अमेरिका को घाटा हुआ ।

हमरा सहयोग करे, कुछ दान करे , ताकी हम सचाई आपके सामने लाते रहे , आप हमरी न्यूज़ शेयर करके भी हमरा सहयोग कर सकते