लोगो के बिच यह बढ़ा सवाल – भारत में टिकटोक को बैन कर दिया है किन्तु PUBG को क्यों बैन नहीं किया गया?

58
Tiktok का एक मात्र विकल App "99likes" डाउनलोड करे,जिसे आप वीडियो भी बना सकते है रे
Download 99likes

चीन के डिजिटल सपने को ज़ोरदार झटका देने के लिए टिकटोक, हेलो, और वीचैट जैसे 59 एप्लीकेशन को बैन कर दिया गया है क्योंकि यह सारी ऍप्स चीन की है। टिकटोक का अचानक से बैन होना टिकटोक के भारतीय users को उदास कर दिया है किन्तु PUBG के users के लिए ये राहत की बात है क्योंकि वह बैन नहीं हुई है। भारत में PUBG एक सबसे ज़्यादा इस्तेमाल करने वाला नशा है। 

चीन के कड़े तेवर के बीच, चीन के तमाम तनावों के बीच, भारत के साथ किया चीन ने अविश्वास और धोखे को मद्देनज़र रखते हुए, मोदी सरकार ने कल 59 चीनी ऐप्स पर एक कदम उठाया और इन सारी  एप्स को बैन कर दिया है – फ़िलहाल कुछ समय के लिए बंध है आगे की स्थिति के अनुसार क्या होगा अभी कुछ नहीं कह सकते है। 

ऐसे बड़े और प्रसिद्द प्लेटफॉर्म्स जैसे हेलो, टिकटोक, और वीचैट जैसे सभी एप कर दिए है बैन चीन को ऐसा जोरदार झटका देने के लिए और उसके डिजिटल सपने को तोड़ने के लिए।  

सरकार पर कई सवाल उठ रहे है। 

शायद यह बैन बढ़ सकता है और कई और एप्स को बैन कर सकती है सरकार अगले कुछ दिनों में।  भारत के लोग कई सवाल पूछ रहे है सरकार से जैसे कि – “क्यों PUBG सरकार ने नहीं रोकी और टिकटोक को कर दिया बंध?” तो इसके पीछे वजह है – आइये जानते है। 

चीन का कोई नामो निशान ही नहीं है। 

कई लोग शायद जानते नहीं है कि PUBG चीन में नहीं बानी है। यह ऑनलाइन युद्ध वाली खेल कि एप साउथ कोरिया में गेम मेकर बलुएहोले द्वारा बनाई गई है जो अब PUBG कॉर्प के नाम से प्रसिद्द है। यह इसलिए लोगो को नहीं पता क्यूंकि गेम के लांच होने के बाद चीन का टेनसेंट इस गेम का डिस्ट्रीब्यूटर है ऐसी बाते सामने आयी थी। 

जब यह प्रोडक्ट ने चीनी मार्किट पर विजय प्राप्त की थी, टेनसेंट इसे भारत ले आया और आगे की कहानी सबके सामने ही है। लेकिन PUBG के मार्केटिंग में एक चीनी पदचिह्न है, उत्पाद अभी भी अपने मिश्रित-मालिक चरित्र को बरकरार रखता है। सूत्रों से पता चला है कि कोरियन टच की वजह से PUBG बच गया है पहले राउंड में। 

इसका मतलब यह हो सकता है कि चीन निवेश कर रहा है या निर्माण कर रहा है, एक उत्पाद को शायद भारत द्वारा प्रतिबंध लगाने का आधार नहीं माना जा रहा है। तो क्या राउंड 2 अलग होगा? अब तक इसके बारे में कुछ भी पता नहीं चला है किन्तु PUBG जैसे चल रही है वैसे चलेगी। 

क्या कोई खतरा नहीं है?

इंटेल से लाल झंडे का यह तर्क था जब सरकार ने निर्णय की घोषणा की थी। बैन 2009 के नियम के अनुसार सेक्शन 69A IT एक्ट के अनुसार लगाया गया है।  यह सब क्रिया और सेफ्टी सिक्योरिटी के लिए किया गया है जिससे जनता कि जानकारी अब इन एप्स द्वारा चीन को नहीं मिलेगी। 

सरकार ने इन 59 एप्स को बैन करने की वजह जनता और भारत के डिफेन्स और सिक्योरिटी दी है। यह सारी एप्स भारतीय लोगो के डेटा चुराता था बिना उनकी अनुमति के। 

सूत्रों से पता चला है कि PUBG की भी जाँच पड़ताल हो चुकी है जो शायद उस जांच में सफल हो गया है अब तक। कुछ यह भी कह रहे है की जानकारी की चोरी की वजह से ही इन सारी एप्स को बैन किया गया है और इसलिए IT मंत्रालय ने यह आदेश जारी किया है – यह आदेश ट्रेड मंत्रालय से नहीं आया है। 

हमरा सहयोग करे, कुछ दान करे , ताकी हम सचाई आपके सामने लाते रहे , आप हमरी न्यूज़ शेयर करके भी हमरा सहयोग कर सकते